बिहार विधानसभा में बवाल: विधायकों में जमकर हुई हाथापाई और गाली-गलौज

0

अलख भारत पटना न्यूज़ : लोकत्नत्र को शर्मसार करने वाली तस्वीर बिहार विधानसभा से आई है। आज बिहार विधानसभा में लोकतंत्र शर्मसार हो गया। विधायकों के बीच हुई धक्कामुक्की और गाली-गलौज की वीडियों टेलीविजन की सुर्खियां बन गया। बिहार में इन दिनों बजट सत्र चल रहा है। बजट सत्र के 15 वां दिन हंगामेदार रहा। विधानसभा के भीतर शनिवार को पक्ष विपक्ष के विधायकों आपस में भीड़ गए। भाजपा के विधायक संजय सरावगी (Japa MLA Sanjay Saraogi), भाजपा के मुख्य सचेतक डॉ. संजीव (BJP chief whip Dr. Sanjeev)और उप सचेतक जनक सिंह (Deputy whip Janak Singh) के साथ आरजेडी विधायक रामवृक्ष सदा (RJD MLA Ramvriksha always) भिड़े। आपस में विधायकों ने गाली-गलौज तक की गई ।

इस बात को लेकर शुरू हुआ बिहार विधानसभा में बवाल

शनिवार को बजट सत्र के दौरान जब तेजस्वी यादव स्वास्थ्य बजट के कटौती प्रस्ताव पर भाषण दे रहे थे, इस दौरान उन्होंने ने शराबबंदी के बहाने डिप्टी CM तारकिशोर प्रसाद पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री का पद तो संवैधानिक लेकिन उप मुख्यमंत्री का पद तो संवैधानिक नहीं होता। इसी बात पर पक्ष विपक्ष के बीच हंगामा शुरू हो गया। विधानसभा स्पीकर विजय सिन्हा (Assembly Speaker Vijay Sinha) के बारहा रोकने पर भी विधायक नहीं माने। विपक्ष के विधायक विधानसभा की वेल के पास आ गए और भीड़ गए।

सदन से बाहर आकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि उप मुख्यमंत्री का पद असंवैधानिक होता है। इस पर किसी को आपत्ति क्यों है, भला सदन में नेता प्रतिपक्ष को रोका गया। वहीँ विधानसभा स्पीकर ने इस घटना पर कहा है कि वे इस घटना से दुखी हैं। सदन बहस होती है सबको बोलने का अधिकार है, लेकिन वेळ के पास आना फिर एक दूसरे पर आरोप लगाना, हाथापाई उचित नहीं है।

इस घटनाक्रम के बाद विधानसभा की कार्यवाही 2 बजे तक स्थगित करनी पड़ी थी। इसके बाद विपक्ष के विधायक विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा के चैंबर के बाहर धरने पर बैठ गए। तेजस्वी और तेज प्रताप यादव ने चैंबर में अध्यक्ष के साथ मुलाकात की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here