Maha Shivratri 2021: जानिये महाशिवरात्रि की पूजा सामग्री की लिस्ट, पूजा विधि, शुभ मुहर्त समय यहाँ चेक करें

0
महाशिवरात्रि Maha shivratri 2021 Date Time, Puja Vidhi, Muhurat, Pooja Samagri List

Maha Shivratri 2021: अबकी बार 11 मार्च को महाशिवरात्रि (Maha Shivratri) पड़ रही है। इस दिन का विशेष महत्त्व है। पौराणिक मान्यताओं के हिसाब से इस दिन विधि-विधान से पूजा-पाठ (Mahashivratri 2021 Puja Vidhi) की जानी चाहिए। आपकी मदद के लिए सही पूजा विधि , शुभ मुहूर्त, सामग्री लिस्ट, मंत्र जाप, आरती आदि विस्तार से बता रहे हैं।

शिवलिंग पूजा (Shivling Puja Ka Mahatva) बड़ी महत्ता है

महाशिवरात्रि के दिन शिवलिंग की विशेष तरीके से पूजा-अर्चना, व्रत विधि-विधान से करें। ऐसी मान्यता है कि ऐसा करने से भोलेनाथ व्रत करने वाले की हर मुराद पूरी कर देते हैं। ज्योतिष शास्त्र के हिसाब से जब आपस में घनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वा भाद्रपद, उत्तरा भाद्रपद और रेवती नक्षत्रों का योग होने पर पंचक काल की शुरुआत होती है। यह काल चन्द्रमा, कुंभ और मीन राशि में रहता है तब तक रहता है।

पंचक की तिथि और मुहूर्त (Panchak March 2021) हिंदू पंचांग अनुसार अबकी बार ग्यारह मार्च को सुबह 09 बजकर 21 मिनट पर चंद्रमा मकर राशि से कुंभ राशि में गोचर करने वाले है. यही इस वक्त से पंचक काल शुरू हो जाएगा और सोलह मार्च की सुबह 04 बजकर 44 मिनट तक रहेगा। इस दौरान लकड़ी को इकट्ठा करने , पलंग की खरीदारी ,लकड़ी से बनी चीजों का निर्माण और मरम्मत, घर में निर्माण और मरम्मत आदि करवाने से बचना चाहिए। इस दौरान दक्षिण में यात्रा करना भी अशुभ की श्रेणी में आता है। यानी मांगलिक कार्य करने से बचे।

पूजा के लिए सामग्री सूची (Mahashivratri Puja Samagri List In Hindi)

गाय का कच्चा दूध (Raw milk of cow) शहद ( honey), स्वच्छ जल (clean water), खीर (kheer), बताशा (betasha) , नारियल (coconut), सफेद पुष्प (white flower), बिल्वपत्र (bilvatra), भांग (hemp), धतूरा (dhatura) , बेर (plum), आम्र मंजरी (amar manjari), जौ की बालें (barley ears), गंगा जल (Ganges water), कपूर (camphor), धूप (incense), दीपक (lamp), रोली (roli), इत्र (perfume), मौली ( molly), जनेऊ (janeu), पंचमेवा Panchmeva), मंदार पुष्प (mandar flower), गन्ने का रस (sugarcane juice), दही (curd), देशी घी ( native ghee,) रूई (cotton), चंदन (sandalwood), पांच तरह के फल समेत भोग के लिए पांच तरह के मिष्ठान व अन्य चीजों की जरूरत पड़ सकती है।

शिव पूजा विधि (Mahashivratri 2021 Puja Vidhi)

  1. सूरज उगने से पहले स्नान करें।
  2. उसके बाद व्रत के का संकल्प लें।
  3. शिवलिंग काजलाभिषेक करें।
  4. शिवलिंग पर बेलपत्र (Belpatra), धतूरा (Dhatura), फूल ( Flowers), अक्षत(Akshata), भस्म (Bhasma), दूध (Milk), दही (Yogurt) आदि से अर्पित करें।
  5. इसके बाद शिव मंत्र , शिवपुराण या शिव चालीसा का जाप कर सकते हैं।
  6. रात को भी शिव आरती करें।

महाशिवरात्रि का व्रत करने वाले इन बिंदुओं पर ध्यान दें –

  • अगर बुजुर्ग व्यक्ति व्रत कर कर रहा है तो वो फलाहार व्रत करें।
  • गर्भवर्ती महिलाएं भी फलाहार व्रत करें।
  • बाकी व्रत करने वालों को नमक का सेवनवर्जित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here