Bharat Bandh : व्यापारियों एवं ट्रांसपोर्टरों ने 26 फरवरी को “चक्का जाम” का किया ऐलान

0
Bharat Bandh 2021

नई दिल्ली : कल यानि शुक्रवार 26 फरवरी 2021 को देश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ और जीएसटी (GST) व्यवस्था को सरल बनाने की मांग को लेकर द कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने चक्का जाम का फैसला लिया है। साथ ही व्यापारियों ने भी “भारत बंद” (Strike) का आह्वान भी किया है, मिडिया में चप्पी रिपोर्ट्स के मुताबिक कल होने वाली इस स्ट्राइक में देश के तक़रीबन 8 करोड़ से भी अधिक व्यापारी हिस्सा लेंगे। जानकारी के लिए आपको बता दे की कल सुबह 06 बजे से शाम के 08 बजे तक चक्का जाम रहेगा।

इसे भी पढ़े : डॉ अशोक तंवर “अपना भारत मोर्चा” की नाव पर क्या सियासी नदी पार कर पायंगे?

किस मांग को लेकर किया जा रहा है भारत बंद?

देश के 8 करोड़ से भी अधिक व्यापरियों की भारत बंद करने के पीछे की मुख्य मांग “जीएसटी (GST) व्यवस्था को सरल बनाने की है”। देश के प्रमुख व्यापारियों के शीर्ष संगठन “द कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स” ने 26 फरवरी 2021 को भारत बंद का आह्वान (Bharat Bandh) किया है। इसके अलावा सड़क परिवहन क्षेत्र की सर्वोच्च संस्था “ऑल इंडिया ट्रांसपोटर्स वेलफेयर एसोसिएशन” (AITWA) ने भी कैट के समर्थन में इसी दिन ‘देशभर में चक्का जाम’ करने का भी ऐलान किया है। कल होने वाले भारत बंद की वजह से एक दिन के लिए सभी व्यावसायिक प्रतिष्टान बंद रहेंगे।

सुबह 06 से शाम 08 के बीच ट्रासपोर्ट सेवायें रहेगी बाधित

ट्रांसपोर्टरों संगठन AITWA के चक्का जाम की वजह से 26 फरवरी को ट्रासपोर्ट सेवायें बाधित रहेगी। सभी राज्य स्तरीय-परिवहन संगठनों ने केंद्र सरकार द्वारा पेश किए गए नये e-waybill कानूनों के विरोध में CAIT (Confederation Of All India Traders) का समर्थन किया है। ट्रांसपोर्ट संगठनों ने 26 फरवरी को होने वाले चक्का जाम के दौरान सभी कार्यालयों को पूरी तरह बंद रखने की बात कही है। सभी प्रकार की माल की बुकिंग, डिलीवरी, लदाई/उतराई बंद राखी जायेगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here