हरियाणा की स्वच्छता व पर्यावरण का संदेश देने वाली फिल्म “बिफोर आई डाई” बनी चर्चा का विषय, जीते 15 अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कार

0
स्वच्छता व पर्यावरण का संदेश देने वाली

स्वच्छता व पर्यावरण का संदेश देने वाली फिल्म “बिफोर आई डाई” इन दिनों चर्चा का विषय बनी हुई है, साथ ही फिल्म ने फिल्म महोत्सवों में अपनी छाप छोड़ते हुए 15 अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कार हासिल कर बड़ी कामयाबी हासिल की है। “बिफोर आई डाई” हरियाणा प्रदेश की पहली ऐसी डॉक्यूमेंटरी फिल्म है, जिसे हरियाणा के निर्माता ने यही की पृष्ठभूमि पर फिल्माया है।

अन्तराष्ट्रीय फिल्म फ़ेस्टिवल में पुरस्कारों की झड़ी लगाने वाली हरियाणा प्रदेश की पहली डॉक्यूमेंटरी फिल्म ‘बिफोर आई डाई’ के निर्माता निर्देशक नकुल देव से विशेष वार्ता में यह बात सामने आयी कि वर्तमान में फिल्म सिटी वास्तव में हरियाणा प्रदेश की जरुरत है।

Documentary Film Before I Die made by haryana director Nakul Dev nominated in international film festival

उनकी डॉक्यूमेंटरी फिल्म ‘बिफोर आई डाई’ बहु प्रतिष्ठित अन्तराष्ट्रीय फिल्म महोत्सवों में पुरस्कार प्राप्त कर चुकी है। जिनमें न्यूयॉर्क मूवी अवॉर्ड्स-अमेरिका, लॉस एंजेलेस सिनेमेटोग्राफी अवॉर्ड्स-अमेरिका, मीलान गोल्ड अवार्ड्स-इटली, मिंडफील्ड इंटरनेशनल फिल्म फ़ेस्टिव-अमेरिका, क्राउन वुड इंटरनेशनल फिल्म फ़ेस्टिवल, अफ्रोडाईट फिल्म अवार्ड-न्यूयार्क व गोना इंटरनेशनल फिल्म फ़ेस्टिवल सहित कुल 15 इंटरनेशनल फेस्टिवल्स में अवार्ड जीत चुकी है।

निर्माता निर्देशक नकुल देव मानते हैं कि हरियाणा में वो तमाम सुविधाएँ व विकल्प मौजूद हैं, जो किसी भी फिल्म सिटी की सफलता के लिए जरुरी होते हैं। हरियाणा की भौगोलिक परि्थितियां भी फिल्म सिटी के एक दम अनुकूल है। जहां हरियाणा की सीमा का एक हिस्सा हिमाचल से लगता हुआ पहाड़ी क्षेत्र है, वहीं दूसरी ओर राजस्थान से लगता हुआ मरुस्थल का क्षेत्र है। यह विविधता फिल्म निर्मातओं को फिल्म की लोकेशन के लिए रास आती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here