सीएम नीतीश समेत बिहार के ये नेता नहीं मनाएंगे होली पटना।

0

 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की होली सादगी के लिए जानी जाती थी। होली के अपराह्न वे पार्टी कार्यकर्ता, सरकार के सहयोगी और आम नागरिकों से मुख्यमंत्री आवास में मिलते थे। सबके संग अबीर-गुलाल का आदान-प्रदान होता था और परस्पर स्नेह, प्रेम, भाईचारा और अनूठा अवसर यह पर्व सृजित करता था। पर अबकी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार होली नहीं खेलेंगे। पार्टी सूत्रों के मुताबिक कोरोना वायरस को लेकर जारी एडवाइजरी के चलते यह आयोजन नहीं होगा। मुख्यमंत्री के सार्वजनिक कार्यक्रम पहले से ही रद्द हैं।

जदयू के अन्य नेताओं के घर भी कोई तैयारी नहीं
जदयू के अन्य बड़े नेताओं के यहां भी होली को लेकर कोई विशेष तैयारी नहीं है। कोरोना वायस के चलते शायद ही कहीं-कोई आयोजन हो। प्रदेश जदयू अध्यक्ष व सांसद बशिष्ठ नारायण सिंह होली के दौरान दिल्ली ही रहेंगे। सांसद आरसीपी सिंह अस्थावां के मुस्तफापुर के अपने गांव ‘मालती’ में ही होली में रहेंगे। रविवार की सुबह ही वे गांव प्रस्थान कर गये।

बंगलूरू में उप मुख्यमंत्री
कोरोना वायरस के कारण प्रधानमंत्री की अपील के बाद बिहार भाजपा नेताओं ने होली मिलन समारोह रद्द कर दिया है। सामूहिक आयोजन नहीं होने के कारण प्रदेश के तमाम नेता घर-परिवार में ही समय व्यतीत करेंगे। इसी क्रम में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी रविवार को पटना से बंगलूरू के लिए रवाना हुए। बंगलूरू में उपमुख्यमंत्री के बच्चे रहते हैं। वे होली तक सपरिवार बंगलूरू में ही रहेंगे। उपमुख्यमंत्री कार्यालय सूत्रों के अनुसार अब वे होली समाप्त होने के बाद ही पटना वापस आएंगे।

शिक्षा मंत्री ने होली नहीं मनाने का किया फैसला
शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा ने अबकी होली नहीं मनाने का फैसला किया है। उन्होंने यह फैसला हड़ताल पर चल रहे राज्य के सरकारी विद्यालयों के शिक्षकों के होली नहीं मनाने की घोषणा के मद्देनजर किया है। रविवार को बताया कि शिक्षक हमारे विभागीय परिवार के अभिन्न हिस्सा हैं। जब वे होली नहीं मना रहे तो मैं कैसे यह पर्व मना सकता हूं। वर्मा ने कहा कि वे एकबार फिर शिक्षकों से अपील कर रहे हैं कि वे हड़ताल तोड़कर काम पर लौटें।

राज्य के 40 हजार माध्यमिक शिक्षक भी नहीं मनाएंगे होली
राज्य के करीब पौने चार लाख प्रारंभिक शिक्षकों के साथ ही अब 40 हजार माध्यमिक शिक्षक भी रंगों का मशहूर पर्व होली नहीं मनाएंगे। रविवार को बिहार राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव मंडल की हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया कि माध्यमिक शिक्षक भी यह पर्व नहीं मनाएंगे। प्रारंभिक शिक्षकों के संगठन ने दो दिन पूर्व ही होली नहीं मनाने का फैसला किया था। रविवार को माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव मंडल की बैठक के बाद महासचिव शत्रुघ्न प्रसाद सिंह ने इसमें लिए गए निर्णयों की जानकारी दी। महासचिव श्री सिंह और अध्यक्ष केदारनाथ पांडेय ने अपने संयुक्त बयान में कहा कि सरकार की नीति के खिलाफ होली नहीं मनाने का फैसला हुआ है। बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के सभी सदस्य 9 और 10 मार्च को धरना स्थगित कर अपने-अपने क्षेत्रीय विधायकों, सांसदों, मंत्री आदि के आवास का घेराव करेंगे तथा अपनी मांगों का ज्ञापन देंगे।

राम विलास पासवान के घर व पार्टी में नहीं होगी होली
लोजपा नेता व केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान के घर में होली नहीं होगी। उनकी पार्टी लोजपा भी होली नहीं मनाएगी। पार्टी प्रवक्ता अशरफ अंसारी और मीडिया प्रभारी कृष्ण कुमार कल्लू ने बताया कि चिराग पासवान ने होली नहीं मनाने का फैसला किया है। राम विलास पासवान के छोटे भाई रामचन्द्र पासवान के निधन के कारण उनके यहां होली का त्योहार नहीं मनाया जाएगा। उनके निधन का अभी एक साल पूरा नहीं हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here